ISIS के पास जा सकते हैं अमेरिकी परमाणु हथियार? 

ISIS के पास जा सकते हैं अमेरिकी परमाणु हथियार? 




पाकिस्तान के परमाणु हथियारों के आतंकवादियों के हाथों में जाने की आशंका तो हमेशा से रही है लेकिन ये किसने सोचा था कि अमेरिकी परमाणु हथियारों की सुरक्षा पर भी सवाल उठने लगेंगे. वाशिंगटन में काम कर रहे एक शांति समर्थक संगठन  ने ISIS या दूसरे खतरनाक आतंकवादियों के हाथों में अमेरिकी परमाणु हथियार लग जाने की आशंका जताई है. थिंक टैंक ने कहा है कि अमेरिका के दर्जनों परमाणु हथियार सीरिया के बेहद पास तुर्की के एक एयरबेस में रखे हुए हैं. तुर्की का ये इलाका आइसिस के कब्जे वाली सीरिया से मुश्किल से 110 किलोमीटर दूर है और यहां करीब 50 परमाणु बम रखे गए हैं. तुर्की में हाल में हुई तख्ता पलट की कोशिशों के बाद ये खतरा और भी खतरनाक हो गया है.

शांति के लिए काम करने वाले इस थिंकटैंक का नाम स्टिम्सन सेंटर थिंकटैंक है . इस थिंक टैंक ने पूछा है कि कि अमेरिका ने हाल की तुर्की की बगावत के बाद एनसर्किल्ड बेस में रखे इन हथियारों की सुरक्षा के लिए क्या किया. ये एयरबेस वैसे भी काफी अहम है क्योंकि यही से आइसिस के खिलाफ लड़ाकू विमान और यूएवी उड़ान भरते हैं.

मार्च में पेंटागन ने दक्षिण तुर्की में मौजूद अमेरिकी नागरिकों को भी वहां से हटने को कहा था. रिपोर्ट में कहा गया है कि जब नागरिकों केलिए खतरा है तो परमाणु हथियार कितने खतरे में होंगे.

संगठन का कहना है कि इस जगह पर सुरक्षा इंतजाम तो हैं लेकिन कोई भी सुरक्षा व्यवस्था हो खतरा तो बना ही रहता है