उसूलोें लिए विशाल डडलानी ने राजनीति छोड़ी, केजरीवाल बदल गए हैं ?

उसूलोें लिए विशाल डडलानी ने राजनीति छोड़ी, केजरीवाल बदल गए हैं ?

केजरीवाल राजनीति में आए थो सिद्धांतों की बातें करके , उन्होंने कहा था सिस्टम को अंदर से जाकर साफ करेंगे लेकिन अब सफल होने या विफल होने का डर उन्हें रोज़ रोज़ सिद्धांतों से समझौता करने को मजबूर कर रहा है. हरियाणआ विधान सभा में जब जैन मुनि को बुलाकर उनका प्रवचन करवाया गया तो भारत के धर्मनिर्पेक्ष लोकतंत्र पर ये बड़ा खतरा था . केजरीवाल ने खुद तो आवाज़ उठाई नहीं उल्टे दूसरों को भी दबाने की कोशिश की . सिंगर और म्‍यूजिशियन विशाल ददलानी ने ने सबसे सटीक  हमला किया तो तुष्टिकरण स्टाइल में केजरीवाल और सत्येन्द्र जैन माफी की मुद्रा में आ गए . उनको जैन वोटों की चिंता सताने लगी . खीझ कर विशाल डडलानी ने राजनीति से संन्‍यास लेने का एलान कर दिया। उनका यह फैसला अरविंद के ट्वीट के बाद आया है। ददलानी ने जैन मुनि तरुण सागर महाराज को लेकर ट्वीट किया था। ये था उनका ट्वीट

इस पर ट्वीट के बाद केजरीवाल चिंता में पड़ गए उन्हें लगा कि पंजाब में जैन समुदाय के वोटों से कहीं हाथ न धोना पड़े . विशाल डडलानी से अलग से बात करने के बजाय केजरीवाल ने सीधे ट्वीट किया .केजरीवाल ने आपत्ति जताई और ऐसा ना करने को कहा। पहले ही बीजेपी समर्थकों की गालियां खा रहे विशाल डडलानी को ये नागवार गुजरा . विवाद होने के बाद उन्‍होंने यह ट्वीट डिलीट कर दिया। इस ट्वीट में उन्‍होंने लिखा, ”यदि आपने इन लोगों को वोट दिया तो आप इस बेहूदा बकवास के लिए जिम्‍मेदार हैं। अच्‍छे दिन नहीं केवल नो कच्‍छे दिन।”

इसके बाद टि्वटर पर लोगों ने ददलानी की खिंचाई शुरू कर दी। इस पर उन्‍होंने माफी भी मांगी लेकिन यूजर्स को यह रास नहीं आया। अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ”तरुण सागरजी महाराज केवल जैनों के लिए ही नहीं बल्कि सभी के लिए बहुत पूजनीय संत हैं। जो लोग अनादर कर रहे हैं वह दुर्भाग्‍यपूर्ण है और यह रुकना चाहिए।” ददलानी ने केजरीवाल के ट्वीट को रीट्वीट भी किया। साथ ही कई बार माफी भी मांगी। उन्‍होंने सफाई में लिखा, ”जिन भी लोगों की भावनाओं को मैंने ठेस पहुंचाई है उन सब से माफी मांगता हूं। लेकिन भारत के लिए राजनीति से धर्म को बाहर रहने दीजिए।”

 

विशाल ददलानी के बयान पर दिल्‍ली के स्‍वास्‍थय, ऊर्जा और पीडब्‍ल्‍यूडी मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने भी माफी मांगी। उन्‍होंने ट्वीट किया, ”मेरे दोस्‍त विशाल ददलानी की ओर से जैन समुदाय की भावनाओं को आहत होने पर मैं माफी मांगता हूं।

मैं मुनि तरुण सागरजी महाराज से क्षमा मांगता हूं।” ददलानी ने केजरीवाल और सत्‍येंद्र जैन से भी माफी मांगी। इसके बाद उन्‍होंने लिखा, ”मुझे बुरा लग रहा है कि मैंने मेरे जैन दोस्‍तों और मेरे दोस्‍त अरविंद केजरीवाल व सत्‍येंद्र जैन को बुरा महसूस कराया। इसलिए मैं सभी सक्रिय राजनीतिक कार्य छोड़ता हूं।