ब्लैकमेलिंग और सैक्स रैकेट चलाने वाली मॉडल का जेल में गर्भपात, अब होगा कैदियों का प्रेग्नेंसी टेस्ट 

मुंबई : सेक्स रैकेट चलाने के आरोप में पिछले महीने गिरफ्तार होकर भायखला महिला जेल में बंद एक मॉडल ने 8 हफ्ते के गर्भ को नष्ट कर दिया। मॉडल को जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसके अबॉर्शन के बाद होने वाले ट्रीटमेंट करवाने से मना कर दिया, जिसके बाद उसे जरूरी दवाइयां देकर वापस जेल भेज दिया गया।

प्रोडक्शन हाउस के नाम पर सेक्स रैकेट चलाने के आरोप में इस महिला मॉडल को जून के अंतिम सप्ताह में वर्सोवा पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया था। यह महिला महत्वाकांक्षी मॉडल्स से संपर्क कर उन्हें फिल्मों में काम दिलाने का वादा करती थी और बाद में उनकी नग्न फोटो लेकर उन्हें वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर करती थी। 

जेल के एक विरष्ठ अधिकारी ने बताया कि कैदी को आठ सप्ताह का गर्भ था, लेकिन उसके जेल अधिकारियों से यह बात छिपा कर रखी थी। जब उसे पता चला कि वह गर्भ से है तो वह चिंतित रहने लगी और इस वजह से उसे सिर दर्द, शरीर में दर्द और बेचैनी जैसी स्वास्थ्य समस्याएं होने लगीं। इसके आद उसने जेल में डॉक्टरों से दवाएं लेनी शुरू कर दीं। हाल ही में जब उसके अत्यधिक रक्त रिसाव की शिकायत की तो उसे जेजे अस्पताल ले जाया गया।

 इस घटना के बाद जेल प्रशासन यह पता करने में जुटा है कि महिला ने जेल के अंदर कैसे भ्रूण का गर्भपात करवा लिया। हालांकि जेल के सूत्रों का कहना है कि उसने अपनी स्वास्थ्य संबंधी दवाओं का एक साथ सेवन कर लिया था ताकि प्रेग्नेंसी टाली जा सके। इस घटना से सबक लेते हुए जेल प्रशासन ने अब तय किया है कि महिला जेल में आने वाले हर कैदी को पहले यूरीन प्रेग्नेंसी टेस्ट से गुजरना होगा. 

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें