इस ओलंपिक में कपड़ों से ज्यादा कंडोम पहने गए, फीमेल कंडोम की भी बरसात

रियो डी जेनेरियो। रियो ओलिंपिक के 17 दिनों के आयोजन में साढ़े दस हज़ार एथलीट्स ने शिरकत की। 33 जगहों पर हो रहे खेलों को देखने आने वाले दर्शकों के लिए साढ़े चार लाख कंडोम की व्यवस्था की गई थी।
इस आयोजन में साढ़े तीन लाख कंडोम बंटे एक लाख और पौने दो लाख लुब्रीकेंट्स के पैक रियो ओलिंपिक विलेज में दिए गए थे। यह पहली बार है जब फीमेल कंडोम भी ओलंपिक में आंवटित किए गए।
यह संख्‍या लंदन में साल 2012 में हुए ओलिंपिक में दिए गए डेढ़ लाख कंडोम से तीन गुना अधिक थी। इसके बावजूद लंदन ओलिंप‍िक को टेबलॉयड्स ने रैंचिएस्‍ट (अब तक के भद्दा खेल) करार दिया था।
ओलंपिक नौकायन में सोने और चांदी के पदक विजेता जैक पर्चेज ने कहा कि यह कंडोम का विशाल आवंटन है। वह 2014 में नौकायन से सेवानिवृत्त हुए और लंदन व बीजिंग ओलिंपिक में हिस्सा ले चुके हैं।
कंडोम बांटने की शुरुआत 1988 में सियोल से हुई थी, जब साढ़े आठ हज़ार कंडोम खिलाड़‍ियों को दिए गए थे। ओलिंपिक में घरों की छतों से कंडोम मिलने के बाद ओलिंपिक एसोसिएशन ने आउटडोर सेक्‍स को प्रतिबंधित कर दिया था। इसके बाद से कंडोम की मांग बढ़ती ही चली गई।
1992 में बार्सिलोना में 90 हजार कंडोम दिए गए थे। साल 2000 में सिडनी में ऑस्‍ट्रेलियाई आयोजकों ने 70 हजार कंडोम में ऑर्डर दिए थे, लेकिन बाद में 20 हजार कंडोम और मंगवाए गए। 2004 में एथेंस में ड्यूरेक्‍स ने एक लाख 30 हजार कंडोम दान में दिए थे।

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें