मैं गंदी नहीं हूं, पुलिस और इनकमटैक्स पर रूसी लड़की के गंभीर आरोप. कोर्ट में देगी हलफनामा

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने दावा किया था कि उसने इंटरनेशनल सैक्स सिंडीकेट को पकड़ा है , इसका सरगना एक रिटायर्ड फौजी अफसर पीके सान्याल को बताया गया था, पुलिस ने सान्याल के सफदरजंग स्थित घर से एक रशियन लड़की को भी पकड़ा था. कहा जा रहा था कि विदेशी लड़कियों के ज़रिए हनीट्रैप बिछाकर सरकारी अफसरों और फौज में डील की जाती होगी . लेकिन रूसी लड़की ने जो खुलासा किया है उससे पुलिस की पूरी थ्योरी धड़ाम से गिर पड़ी है। रैकेट के मुख्य आरोपी सान्याल के घर से मिली 23 वर्षीय विदेशी लड़की ने सैक्स रैकेट वाली बात को बकवास बताया है. रूसी लड़की के ने इनकम टैक्स डिपार्टमेंट पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं.

रशियन लड़की ने पुलिस पर लगाए ये आरोप

सेक्स रैकेट मामले में पकड़ी गई रशियन लड़की के वकील ने कोर्ट के सामने जो एप्लीकेशन लगाई है उसमें पुलिस के इस केस को ताश के पत्तों की तरह बिखेर कर रख दिया। वकील के मुताबिक दिल्ली पुलिस एक विदेशी महिला को जानबूझकर परेशान कर रही है और उसका गैरकानूनी तरीके से पासपोर्ट जब्त कर रखा है। महिला के मुताबिक न तो वह किसी सेक्स रैकेट का हिस्सा है और न ही उसे जबरन किसी ने अपने पास रखा था। लिहाजा उसका पासपोर्ट वापस किया जाए। कोर्ट ने इस पर लड़की का पासपोर्ट वापस करने का आदेश दिया।

इस्कॉन टेम्पल से जुड़कर भारत आई

रशियन लड़की का कहना है कि वह पिछले सात सालों से डिप्रेशन की शिकार थी। वह डॉक्टर की सलाह के बाद इस्कॉन टेम्पल से जुड़ी और भारत आ गई। यहां उसकी मुलाकात पीएन सान्याल से हुई और दोस्ती गहरी हो गई। लड़की के मुताबिक वह सान्याल के घर में इनकम टैक्स की रेड से एक महीने पहले से रह रही थी।

मुझे जबरदस्ती टार्चर किया

रशियन लड़की ने कोर्ट में अपनी एप्लीकेशन में इनकम टैक्स और दिल्ली पुलिस पर बेहद संगीन आरोप लगाए हैं। उसने कहा कि ‘इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने रेड के बाद मुझसे पूछताछ करनी शुरू कर दी। मुझे परेशान करना शुरू कर दिया। मैंने इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को बताया कि मैं यहां अपनी मर्जी से रहे रही हूं, सान्याल मेरे दोस्त हैं। लेकिन इनकम टैक्स अफसरों ने मेरी एक नहीं सुनी। वे मुझे जबरन सेक्स रैकेट का हिस्सा बनाने पर तुले रहे। मुझे चार दिन तक लगातार टार्चर किया गया। इनकम टैक्स अफसरों ने मेरे साथ मारपीट तक की। परेशान होकर मैंने अपने हाथ की नसें तक काट लीं। उन्होंने मेरे फोन का सारा डेटा तक डिलीट कर दिया था।’

पुलिस ने किया गंदा बर्ताव

रशियन लड़की ने कहा है कि ‘बाद में दिल्ली पुलिस ने भी पूछताछ के दौरान इसी तरह मेरे साथ गंदा बर्ताव किया। वे भी मुझे टार्चर करते रहे और मुझे जबरन सेक्स रैकेट का हिस्सा होने की बात कबूल करने के लिए धमकाते रहे।

पुलिस को मुसिबत में डाल सकते हैं ये बयान

कोर्ट ने रशियन लड़की की इस शिकायत के बाद 28 जुलाई को कोर्ट में अपने बयान दर्ज करवाने के लिए बुलाया है। अगर यह रशियन लड़की अपने कोर्ट अपने बयानों में किसी भी तरह की जोर जबरदस्ती और सेक्स रैकेट के आरोपों से इनकार करती है तो पुलिस के लिए पीएन सान्याल और अजय अहलावत को कानूनी रूप से घेरना बेहद मुश्किल होगा।

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें