मोदी सरकार के बाद करप्शन की गटरगंगा,उसने 20 प्रॉपर्टियां बना लीं, सोना अलग

मोदी सरकार के बाद करप्शन की गटरगंगा,उसने 20 प्रॉपर्टियां बना लीं, सोना अलग




नौ लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़े गए कॉरपोरेट मामलों के महानिदेशक बीके बंसल की पत्नी और बेटी ने हाल में आत्महत्या कर ली थी। दोनों ने पूर्वी दिल्ली के आईपी एक्सटेंशन में अपने घर में फांसी लगाई।  इसके बाद बंसल के बारे में कई बड़ी जानकारियां सामने आने लगीं, इनमें सबसे ज्यादा अहम है कि पीएम मोदी की सरकार आने के बाद ही उन्होंने ज्यादातर संपत्तियां जमा कीं. बंसल की संपत्तियों का ब्यौरा चौंकाने वाला है.

सीबीआई ने दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और यूपी से बंसल के 20 से भी ज्यादा प्रॉपर्टी के दस्तावेज जब्त किए हैं। ये 20 संपत्तियां दिल्ली, हरियाणा,  पंजाब और यूपी में हैं. बंसल के पास हरियाणा के सिरसा में 9, फरीदाबाद में 3 और गुड़गांव में 1 संपत्ति के कागज़ात मिले हैं. उनकी दिल्ली के पटपड़गंज में 3 फ्लैट हैं और   द्वारका में 1 प्लॉट है, यूपी के हापुड़ में एक संपत्ति है और और पंजाब के बठिंडा में एक प्लॉट है.  सीबीआई ने बंसल के ख़िलाफ़ आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज करने की तैयारी की है.. अब तक करीब 6 करोड़ से ज़्यादा की संपत्ति का पता लगा है. इनमें से कई संपत्तियां बंसल के बेटे के नाम पर हैं.

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने रिश्वत लेने के मामले में केंद्रीय कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय में महानिदेशक बी के बंसल को शनिवार के दिन हिरासत में लिया था।  सीबीआई का आरोप है कि बंसल को एक स्थानीय होटल के बाहर एक कंपनी को गलत तरीके से फायदा पहुंचाने के लिए नौ लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया। उनके साथ एक अन्य व्यक्ति विश्वदीप बंसल को भी हिरासत में लिया गया था ।