शादी शुदा मर्द से प्यार करती थी, कोर्ट ने कहा- साथ रहो

राजस्थान हाई कोर्ट ने 26 साल की लड़की को एक विवाहित मर्द के साथ रहने की इजाज़त दी है.

कोर्ट ने यह अनुमति उस विवाहित व्यक्ति की याचिका पर सुनवाई करने के बाद दी है, जिसमें आरोप लगाया गया था कि लड़की को उसके पेरेन्ट्स ने बंधक बना लिया है.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक़ जस्टिस संदीप मेहता और जस्टिस विनित कुमार माथुर की बेंच इस मामले की सुनावई कर रहे थे. याचिकाकर्ता मोइनुद्दीन अब्बासी ने कहा कि उन्होंने 28 जुलाई, 2018 को 26 साल की रूपल सोनी से शादी की थी. उन्होंने यह भी कहा कि सोनी के परिवार ने उन्हें बंधक बना कर रखा है.

इस पर कोर्ट ने पुलिस को कोर्ट के समक्ष लड़की को पेश करने का आदेश दिया था. बीते 13 मार्च को सोनी ने कोर्ट को कई अन्य बातें बताईं.

सुनवाई के दौरान कोर्ट को यह बताया गया कि याचिकाकर्ता पहले से विवाहित है और उसके दो बच्चे हैं. बावजूद इसके उन्होंने सोनी से शादी कर ली.

मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए कोर्ट ने उस लड़की को उदयपुर में सरकारी देखरेख में रखने को कहा था.

कोर्ट ने आदेश दिया है कि “लड़की याचिकाकर्ता के साथ अपने रिश्ते जारी रखना चाहती हैं. वो बालिग़ हैं और यह फ़ैसला अपने होश हवास में ले रही हैं. वो जहां चाहे रह सकती हैं.”