रामनाथ कोविंद को टक्कर देने के लिए लालू प्रसाद यादव ने भरा राष्ट्रपति पद का पर्चा

रामनाथ कोविंद को टक्कर देने के लिए लालू प्रसाद यादव ने भरा राष्ट्रपति पद का पर्चा

नयी दिल्ली : आगामी 17 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को टक्कर देने के लिए लालू प्रसाद यादव ने नामांकन भरा है. ये लालू यादव राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष नहीं है बल्कि बिहार के सारण जिले के निवासी है जिन्होंने बुधवार को नामांकन दायर किया.

 

लोकसभा सचिवालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार, लालू प्रसाद यादव ने नामांकन पत्र दाखिल करते हुए मतदाता के तौर पर पंजीकृत संसदीय क्षेत्र की मतदाता सूची में अपनी प्रविष्टि की प्रति और 15000 रुपये जमानत राशि जमा की है.

 

संयोगवश ये बिहार से ही आते हैं और सारण जिले के निवासी हैं. बुधवार को दो लोगों ने राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन भरा जिसमें लालू प्रसाद यादव के अलावा तमिलनाडु के धरमपुरी जिले के अग्नि श्रीरामचंद्रन शामिल है.

 

सचिवालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार, अब तक 25 लोग राष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनाव के लिये नामांकन दायर कर चुके हैं. राष्ट्रपति चुनावों के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के पहले दिन छह लोगों ने नामांकन दायर किया. जिसमें मुंबई के पटेल दंपति-सायरा बानो मोहम्मद पटेल और मोहम्मद पटेल अब्दुल हामिद शामिल हैं.

 

इसके अलावा तमिलनाडु केके पद्मराजन, मध्य प्रदेश के आनंद सिंह कुशवाहा, तेलंगाना केए बाला राज और पुणे के कोंडेकर विजयप्रकाश ने भी राष्ट्रपति चुनावों के लिए अपना नामांकन-पत्र दाखिल किया. हालांकि, इन सभी का नामांकन रद्द होना तय माना जा रहा है, क्योंकि इसके लिए निर्वाचक मंडल में से 50 प्रस्तावकों और प्रस्ताव के इतने ही समर्थकों के दस्तखत की अनिवार्य शर्त है. लोकसभा, राज्यसभा और राज्यों की विधानसभों के निर्वाचित सदस्य राष्ट्रपति चुनाव के निर्वाचक मंडल में शामिल होते हैं.