वो काली का मंत्र पढ़ता और बच्चियों को मौत के घाट उतार देता, माता के दरबार से चुनता था शिकार

ये कोई सामान्य हत्यारा नहीं है. वो भंडारे में जाता था वहां से बच्चियों को उठा ले जाता था. इसके बाद वो काली का मंत्र पढ़ता और बच्चों को मौत के घाट उतार देता. गुड़गांव सेक्टर-66 में एक बच्ची के साथ बाद पुलिस ने उसे पकड़ा है.

पुलिस पूछताछ में आरोपी ने जो बात बताई उससे सबके रौंगटे खड़े हो गए. आरोपी ने माना कि वह अब तक इसी तरह 9 मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म कर उनको मौत के घाट उतार चुका है. यहां चौंकाने वाली बात यह है कि हत्यारे और रेपिस्ट का शिकार बनी सभी बच्चियों की उम्र केवल 3 से 8 साल बीच थी.

बच्चियों के साथ हुई बर्बरता के इन मामलों में 3 गुड़गांव, 4 दिल्ली, एक ग्वालियर और एक झांसी शामिल हैं. घटना के खुलासे के बाद गुड़गांव पुलिस सभी घटनाओं के तह तक जाने के लिए दिल्ली, ग्वालियर और झांसी पुलिस से संपर्क साध रही है.

पुलिस पूछताछ में आरोपी ने खुलासा किया है कि वह अक्सर मंदिर में लगने वाले भंडारों में जाता था और वहां खाना खाने आईं बच्चियों को उठा ले जाता था. मंगलवार को इस मामले को लेकर हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान डीसीपी क्राइम सुमित कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस को पता चला कि आरोपी का कोई एक ठिकाना नहीं था.. वह सड़क किनारे कहीं भी सो जाता था, कहीं भी मजदूरी कर लेता था. इसमे एक बात तो कॉमन है वह यह है कि आरोपी भंडारे में खाना खाने का काफी शौकीन है.

आरोपी की इसी बात को भुनाते हुए पुलिस ने उसको पकड़ने का जाल बिछाया. इसके लिए पुलिस ने बीते मंगलवार को गुड़गांव के एक हनुमान मंदिर में, गुरुवार को साईं मंदिर में और शनिवार को शनि मंदिर में भंडारे का आयोजन कराया. इन भंडारों के आसपास सादी वर्दी में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया, जो वहां की गतिविधियों पर पैनी नजर रख रहे थे. इसके साथ ही 100 से अधिक पुलिसकर्मियों ने रात को सड़क किनारे सोने वालों, निर्माणाधीन इमारतों में मजदूरी करने वाले करीब 2000 से अधिक लोगों से पूछताछ की. लेकिन आरोपी गुड़गांव में पकड़ा नहीं जा सका.

आपको बता दें कि 12 नवंबर को गुडगांव सेक्टर-66 इलाके में तीन वर्षीय एक मासूम बच्ची का शव सड़क किनारे पड़ामिला था. जानकारी कर पता चला कि बच्ची 11 नवंबर की दोपहर से गायब थी. इस बच्ची की दुष्कर्म के बाद बर्बरता कर उसकी हत्या की गई थी. इस घटना का आरोप घटनास्थल के पास की ही झुग्गी में रहने वाले युवक सुनील पर लगा था. जिसके बाद पुलिस ने उसको झांसी के मगरपुर गांव से दबोच लिया.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.