ससुर से हलाला के बाद गर्भवती हुई बहू, पति ने धक्के देकर निकाल दिया

उत्तर प्रदेश के संभल जिले में तीन तलाक के बाद हलाला के नाम पर महिला की जबरन ससुर से शादी कराई गई. ससुर ने महिला का रेप किया और वह गर्भवती हो गई. बाद में उसे फिर घर से निकाल दिया गया. पुलिस ने पीड़िता की शिकायत के आधार पर उसके ससुर, पति और दो मौलवियों के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

यह घटना नखासा थाने की है. बरेली के अपर पुलिस महानिदेशक प्रेम प्रकाश ने बताया कि महिला ने डीएम को लिखित शिकायत की थी. इस शिकायत में महिला ने आरोप लगाया था कि उसके पति ने तीन तलाक दे दिया था. तीन तलाक के बाद उसे वापस अपने पास रखने के लिए हलाला करने को कहा गया.

‘…इसलिए अब हलाला करना पड़ेगा’

पीड़िता का निकाह 7 दिसम्बर 2014 को नखासा थाना क्षेत्र के तुर्तीपुरा इलाह इलाके में हुआ था. महिला का आरोप है कि 25 दिसंबर, 2015 की रात को उसके ससुराल के लोगों ने उसे घर से बाहर निकाल दिया था. इस मामले में उसने 3 जनवरी, 2016 को अपने ससुराल के लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था.

बाद में 24 दिसम्बर 2016 को दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया और वह अपने ससुराल चली गई. उसके बाद उसके शौहर, ससुर और उसके पति के मामू ने कहा कि चूंकि तलाक हो चुका है, इसलिए अब हलाला भी करना पड़ेगा.

ससुर के साथ कमरे में बंद कर दिया

महिला का आरोप है कि काफी मना करने के बावजूद दो कथित मौलवियों को लेकर आया गया. दोनों मौलवियों ने कहा कि वह उसके ससुर से उसका निकाह करा देंगे और ‘हलाला‘ के बाद वह सुबह उसे तलाक दे देगा. उसके बाद उसका निकाह फिर से शौहर से करा दिया जाएगा. करीब दो घंटे बाद उसका ससुर से निकाह करा दिया गया.

उसे ससुर के साथ कमरे में बंद कर दिया जहां उसने उससे बलात्कार किया. सुबह ससुर ने उसे तलाक दे दिया और उसे इद्दत के नाम पर एक कमरे में बैठा दिया गया. इस दौरान उसके पति ने भी उसके साथ बलात्कार किया और वह गर्भवती हो गई. बाद में वह अपने मायके चली आई जहां उसने एक बेटे को जन्म दिया.

शिकायत पर जान से मारने की धमकी

महिला ने शिकायत में यह भी आरोप लगाया है कि उसने अपने साथ हुए इस जुल्म के खिलाफ उसने जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र दिया, तब से आरोपी और कुछ मौलाना उसे तथा उसके परिवार को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं. अपर पुलिस महानिदेशक ने बताया कि उनके आदेश पर इस मामले में महिला के पति, ससुर, पति के मामू और दो अज्ञात मौलवियों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार के आरोप में रविवार को मामला दर्ज किया गया है. मामले की जांच की जा रही है.