ऐन चुनाव में बीजेपी ने किया सेल्फ गोल, खुल जाएगा ये झूठ

इसे कहते हैं चुनाव के समय सेल्फ गोल करना. बीजेपी के सिद्दार्थनाथ सिंह ने सोशल मीडिया पर फैलाए जाने वाले झूठ को सच समझ लिया और ऐसा बयान दे दिया कि इस मामले पर अब झूठा प्रचार भी चुनाव के वक्त एक्सपोज हो जाएगा.

बीजेपी के नेता सिद्दार्थ नाथ सिंह ने सवाल उठाया है कि दादी इंदिरा गांधी को अपना आदर्श बताकर नाव यात्रा के दौरान मंदिर और दरगाहों पर माथा टेकने वाली प्रियंका गांधी वाड्रा प्रयागराज में अपने दादा फिरोज जहांगीर गांधी की कब्र पर फूल चढाने क्यों नहीं गईं. जबकि ये सफेद झूठ है.

जाहिर बात है हाल के सालों में ये झूठ सोशल मीडिया सेल ने इतना दोहराया कि सच लगने लगा सिद्धार्थ नाथ सिंह को भी सच ही लगा और उन्होंने ये बयान दे दिया .

यूपी के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने साफ तौर पर कहा है कि प्रियंका गांधी अपनी नाव यात्रा के दौरान खुद को सॉफ्ट हिन्दू बताने की कोशिश कर रही हैं. सॉफ्ट हिंदुत्व के दिखावे की वजह से प्रियंका मंदिरों में तो खूब गईं, लेकिन प्रयागराज के स्वराज भवन में तकरीबन ग्यारह घंटे का वक्त बिताने के बावजूद वह वहां से महज़ दो किलोमीटर दूर स्थित फ़िरोज़ गांधी की कब्र पर नहीं गईं.

सिद्धार्थनाथ ने कहा है कि राहुल और प्रियंका दोनों को ही इस बात का जवाब देना चाहिए कि वह लोग दादी इंदिरा से तो इतना लगाव दिखाते हैं, पर हर मौके पर दादा फ़िरोज़ गांधी को क्यों भूल जाते हैं.

आपको याद होगा कि KnockingNews इस बारे में तथ्य परक लेख छाप चुका है. इस लेख की लिंक नीचे फिर से दे रहे हैं. आपको बता दें कि फिरोज़ गाधी का अंतिम संस्कार दिल्ली में हुआ था. इसमें कई ऐसी बातें हैं जो सिद्दार्थनाथ सिंह को शर्मसार कर सकती हैं.

1 टिप्पणी

  1. क्यों मंदिर जाना सिर्फ बीजेपी वालो का काम है। दूसरा कोई जाए पेट में दर्द हो जाती है।

Leave a Reply