मौसम ने 56 लोगों की जान ली, दिल्ली एनसीआर में अफरा तफरी

मौसम ने 56 लोगों की जान ली, दिल्ली एनसीआर में अफरा तफरी

मौसम के बदलाव आंधी पानी और तूफान से पूरे उत्तर भरत में तबाही मच गई है. देश भर में 56 लोगों की मौत हो गई है और 27 उड़ानों के रूट बदले गए हैं. बसों और रेल गाड़ियों को हिसाब ही नहीं है. दिल्ली में ब्लू व रेड लाइन मेट्रो सेवा और करीब आधा दर्जन ट्रेनें भी प्रभावित हुईं.

80 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से धूलभरी आंधी चलने के कारण शाम पांच बजे ही अंधेरा छा गया. इसके बाद तेज हवा के साथ आई बारिश ने लोगों को गर्मी से राहत दी.

शुक्रवार-शनिवार को बारिश और आकाशीय बिजली की चपेट में आने से कई राज्यों में मरने वालों की संख्या 56 हो गई है, जबकि इतने ही लोग घायल हुए हैं. दो दिन के भीतर उत्तर प्रदेश में 26, बिहार में 14, ओडशा में 10, झारखंड में 4 और मध्य प्रदेश में 2 लोगों की मौत हुई है. मई से अब तक तूफान और बिजली गिरने से देशभर में 400 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

पंजाब, राजस्थान और हरियाणा के कुछ इलाकों में भी शनिवार को धूलभरी आंधी के साथ बारिश हुई. उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा, गुजरात और आंध्र प्रदेश में भी हुई बारिश ने लोगों को गर्मी से राहत दिलाई. कर्नाटक के तटीय इलाकों में तेज बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है.

उधर पहली ही बारिश में मुंबई बेहाल हो गई. सड़कों पर पानी जमा हो गया और ट्रेन व विमान सेवाएं प्रभावित हो गईं. मौसम विभाग ने अगले दो दिन तक भारी बारिश की आशंका जताई है. मुंबई में उड़ानों में 20 से 40 मिनट तक की देरी हुई. उपनगरीय ट्रेनें 15 से 20 मिनट देरी से चलीं.

मध्य रेलवे के प्रवक्ता सुनील उदासी ने कहा कि पटरियों पर जल जमाव को देखते हुए कई फास्ट गाड़ियों को स्लो ट्रैक पर डायवर्ट करना पड़ा. मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने कहा है कि कोई उड़ान रद्द नहीं हुआ है, लेकिन उड़ानें 15 से 20 मिनट देरी से हुई हैं. ठाणे में बिजली गिरने से एक मछुआरे और सड़क दुर्घटना में एक महिला की मौत हो गई.

Leave a Reply