विदाई के वक्त वो दूल्हे का हाथ झि़ड़क कर अंदर भाग गई. बोली- मैं ससुराल नहीं जाऊंगी

देहरादून: सुबह सूरज निकल रहा था. पौ फटने को थी. बाराती अपना सामान समेट चुके थे. रात का डांस और मस्ती का खुमार उतर चुका था . सबको जल्दी थी कि विदायी हो तो अपने घर जाएं. ये सिर्फ दुल्हन की विदाई का ही वक्त नहीं होता बल्कि शादी के उत्साह के विदा होने का भी वक् होता है. दूल्हा भी दुल्हन को घर लेकर जाने की हड़बड़ी में था. अचानक दुल्हन बागी हो गए. दिल्ली वाले दूल्हे का उसने हाथ झिड़क दिया – बोली मैं ससुराल नहीं जाउंगी . लड़के वाले कहां मानने वाले थे उन्होंने भी वापस घर जान की जगह पुलिस चौकी का रुख किया. लेकिन लड़की वाले वहा भी पहुंच गए. कहने लगे शादी का खर्च दिलाया जाए.

दूल्हे की गलती मामूली नहीं थी. दिल्ली में टैक्सी चलाने वाले रिवेन्द्र की शादी दून के डालनवाला निवासी युवती से तय हुई. शुक्रवार को बारात आई तो खूब धूम-धड़के के साथ स्वागत हुआ. मगर कुछ ही देर बाद दूल्हा शराब के नशे में झूमने लगा. शादी के मंच पर दूल्हे ने सिगरेट पीनी शुरू की तो ससुराली हैरान रह गए. रात को मामला किसी तरह सुलझाया गया और सात फेरे हुए.

मगर सुबह बारात की विदाई से पहले दूल्हा फिर नशे में धुत हो गया. नशे में झूमने और बेवजह गाली-गलौज करने पर दूल्हन से दूल्हे रिवेन्द्र से हाथ छुड़वाकर शादी से साफ इनकार कर दिया. इससे बारातियों और घरातियों में हड़कंप मच गया. दुल्हन के बाद परिजनों ने भी शादी से हाथ खींचते हुए पुलिस को सूचना दे दी.

झगड़े की नौबत आने पर दोनों पक्ष पुलिस चौकी आराघर पहुंचे. दुल्हन पक्ष के लोगों का कहना है कि उनको शादी में हुआ खर्चा दिया जाए. पुलिस देर रात तक दोनों पक्षों के समझाने का प्रयास करती रही.

इस मामले में दुल्हन पक्ष के लोगों की तरफ से शादी में हुए खर्चे की मांग की जा ही है. दोनों पक्षों में समझौते का प्रयास चल रहा है. दूल्हे का मेडिकल कराया गया है.

बस थोड़ा इंतज़ार..

ताज़ा खबरे सबसे पहले पाने के लिए सब्सक्राइब करें

KNockingNews की नयी खबरें सबसे पहले पाने के लिए मुफ्त सब्सक्राइब करें