बीजेपी के कंडोम विधायक का एक और नफरत फैलाने वाला बयान, पार्टी फिर चुप रहेगी ?

बीजेपी के कंडोम विधायक का एक और नफरत फैलाने वाला बयान, पार्टी फिर चुप रहेगी ?

गोकशी के मुद्दे पर अपने बयानों के कारण अक्‍सर विवादों में घिरने वाले अलवर के बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने लव जिहाद पर विवादित बयान दिया है. न्‍यूज एजेंसी ANI के मुताबिक उन्‍होंने कहा कि लव जिहाद बंद होना चाहिए और बरगला कर जिन हिन्‍दू लड़कियों का धर्म परिवर्तन कराया गया है, उनकी अपने धर्म में वापसी होनी चाहिए. ज्ञानदेव आहूजा ने कहा, ”हमारी जो लड़कियां गई हैं, लव जिहाद का लोभ देके ले गए हो, उसके लिए टाइम दूंगा. या उनको लाओ नहीं तो फिर 10 गईं हैं तो 20, 20 गई हैं तो 40 और 40 गई हैं तो 80, फिर तुम्‍हारी बेटियां सुरक्षित नहीं होंगी क्‍योंकि तुमने बलात धर्म परिवर्तन किया है.”

इसके साथ ही बीजेपी विधायक आहूजा ने यह भी कहा यदि ऐसा नहीं हुआ तो इसके लिए अपेक्षित संघर्ष भी किया जाएगा. इस संदर्भ में मिसाल देते हुए उन्‍होंने कहा, ”भगवान श्री राम तो मर्यादा में रहे, कृष्‍ण भगवान ने सारी मर्यादाएं तोड़कर धर्मयुद्ध किया और धर्म की स्‍थापना की. जरासंध कैसे मरेगा, दुर्योधन कैसे मरेगा. इसके‍ लिए चाल, छद्म और संघर्ष भी करना पड़ेगा तो करेंगे.”

‘गोकशी आतंकवाद से बड़ा अपराध’

अलवर में पिछले एक साल में भीड़ द्वारा गो-तस्‍करी के शक में पीट-पीटकर कई लोगों को मारे जाने ज्ञानदेव आहूजा ने 30 जुलाई को कहा कि गोकशी आतंकवाद से बड़ा अपराध है. बीजेपी मुख्यालय पर संवाददाताओं से बातचीत में आहूजा ने कहा कि आतंकवादी 2—5 लोगों को मारते हैं लेकिन गोकशी से हजारों—लाखों लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचती है.

आहूजा ने कहा कि भारत एक ऐसा देश है जहां मां का आदर किया जाता है. गीता, धरती (जमीन), गाय, गंगा, तुलसी और जन्म देने वाली को देश में मां माना जाता है. देश में मां के साथ किसी प्रकार की छेड़छाड़ या गुंडागर्दी को स्वीकार नहीं किया जायेगा, इसलिये यह आतंकवाद से भी बड़ा अपराध है. विधायक ने कहा कि गोहत्या से लोगों की भावनाएं भड़कती हैं, जिससे कुछ घटनाएं होंगी. अदालत को इसे स्वीकार करना चाहिए.

Leave a Reply